Hindi
Thursday 4th of June 2020
Ahlul-Bayt as the Earth Angels
ارسال پرسش جدید

हज़रत फ़ातेमा मासूमा(अ)की शहादत

हज़रत फ़ातेमा मासूमा(अ)की शहादत
वे एक ऐसी महान हस्ती थीं जिन्होंने इतिहास के एक कालखंड में अपने ऐतिहासिक पलायन से मुसलमानों के लिए एक बहुत बड़े गौरव का मार्ग प्रशस्त किया। ये हस्ती इमाम मूसा काज़िम ...

हज़रत अली का जीवन परिचय

हज़रत अली का जीवन परिचय
आप का जन्म रजब मास की 13वी तारीख को हिजरत से 23वर्ष पूर्व मक्का शहर के विश्व विख्यात व अतिपवित्र स्थान काबे मे हुआ था। आप अपने माता पिता के चौथे पुत्र थे। आप का जन्म रजब मास की ...

शार्गिदे इमाम अली रूशैद हजरी

शार्गिदे इमाम अली रूशैद हजरी
इराक मे दफ्न बुज़ुर्ग शख्सीयात मे से एक जनाबे रूशैद हजरी है कि जो इमाम अली अलैहिस्सलाम के असहाबे खास मे से थे और ईमान और अमल के बड़े दरजे पर फाएज थे शायद इसी लिऐ परवरदिगारे ...

गुनाहगार माता -पिता

गुनाहगार माता -पिता
बहुत से घराने ऐसे होते हैं जो अपनी जिहालत व नादानी की वजह से अपने बच्चों की बर्बादी के असबाब ख़ुद फ़राहम करते हैं। कुछ वालिदैन ऐसे भी होते हैं जो अपने बच्चों के शर्माने, ...

मुहाफ़िज़ इमामत हज़रत जै़नबे कुबरा सलामुल्लाह अलैहा

मुहाफ़िज़ इमामत हज़रत जै़नबे कुबरा सलामुल्लाह अलैहा
इमाम यानी ज़मीन पर ख़ुदा का ख़लीफ़ा, सारे मौजूदात की हयात और पूरी कायनात का सुकून वुजूदे इमाम से बर क़रार है। वह ज़ैनब (स) जो ख़ानदाने इमामत में पली हो और मकतबे अली (अ) में ...

एतेमाद व सबाते क़दम

एतेमाद व सबाते क़दम
वह लोग सीसा पिलाई हुई दिवार की तरह हैं। सूरः ए सफ़ आयत न. 5 नहजुल बलाग़ा में हज़रत अली अलैहिस्लाम का यह क़ौल नक़्ल हुआ हैं- يوم لک و يوم عليک एक रोज़ तुम्हारे हक़ में और दूसरा ...

हज़रते क़ासिम बिन इमाम हसन अ स

हज़रते क़ासिम बिन इमाम हसन अ स
हज़रते क़ासिम बिन इमाम हसन अ स    Email 0 सारे वोट 0.0 / 5लेख ›रसुले अकरम व अहले बैत ›इमामे हुसैन(अ) ›शौहदाऐ करबला    में प्रकाशित    2014-11-16 11:54:25लेखक:    सैय्यद ...

हज़रत फातेमा मासूमा (अ.स) की हदीसे

हज़रत फातेमा मासूमा (अ.स) की हदीसे
हज़रत फातेमा मासूमा (अ.स) हज़रत इमाम सादिक़ (अ.स) की बेटीयो (फातेमा, ज़ैनब और उम्मेकुलसूम) से नकल करती है और इस हदीस की सनद का सिलसिला हज़रत ज़हरा (स.अ) पर खत्म होता हैः حدثتنی ...

इमाम मुहम्मद तक़ी अलैहिस्सलाम के शुभ जन्म दिवस की हार्दिक बधाई।

इमाम मुहम्मद तक़ी अलैहिस्सलाम के शुभ जन्म दिवस की हार्दिक बधाई।
ईश्वरीय दायित्व के उचित ढंग से निर्वाह के लिए पैग़म्बरे इस्लाम (स) के परिजनों में से प्रत्येक ने अपने काल में हर कार्य के लिए तार्किक और प्रशंसनीय नीति अपनाता था ताकि ...

मुफ़स्सेरीन और उलामा की नज़र में मोहकम और मुतशाबेह के मआनी

मुफ़स्सेरीन और उलामा की नज़र में मोहकम और मुतशाबेह के मआनी
उलामा ए इस्लाम के दरमियान मोहकम और मुतशाबेह के मआनी में बहुत ज़्यादा इख़्तिलाफ़ मौजूद है और उन मुख़्तलिफ़ अक़वाल में तहक़ीक़ से इस मसले के बारे में तक़रीबन बीस अक़वाल मिल ...

इमाम मूसा काज़िम अलैहिस्लाम

इमाम मूसा काज़िम अलैहिस्लाम
पैग़म्बर और ईश्वरीय मार्गदर्शक, सर्वसमर्थ व महान ईश्वर की असीम कृपा के प्रतीक और विश्व में उसकी दया एवं मार्गदर्शन के स्रोत हैं। वे इतिहास के अंधेरे में प्रज्वलित दीप की ...

अज़ादारी और इसका फ़लसफ़ा

अज़ादारी और इसका फ़लसफ़ा
हमारा अक़ीदह है कि शोहदा-ए- इस्लाम मख़सूसन शोहदा-ए-कर्बला के लिए अज़ादारी बरपा करना, इस्लाम की बक़ा के लिए उनकी जाफ़िशानी व उनकी याद को ज़िन्दा रखने का ज़रिया है। इसी वजह से ...

हज़रते क़ासिम बिन इमाम हसन अ स

हज़रते क़ासिम बिन इमाम हसन अ स
क़ासिम इमाम हसन बिन अली (अ) के बेटे थे और आप की माता का नाम “नरगिस” था मक़तल की पुस्तकों ने लिखा है कि आप एक सुंदर और ख़ूबसरत चेहरे वाले नौजवान थे और आपका चेहरा चंद्रमा की ...

अब्बासी हुकूमत का, इमाम हसन असकरी अ.स. से डरने का कारण

अब्बासी हुकूमत का, इमाम हसन असकरी अ.स. से डरने का कारण
यह बात हम सभी जानते हैं कि बनी अब्बास ने अहलेबैत अ.स. के नाम पर बनी उमय्या का तख़्ता पलटते हुए यही कहा था कि हुकूमत और ख़िलाफ़त पैग़म्बर स.अ. के अहलेबैत अ.स. का हक़ है, लेकिन बनी ...

दर्द नाक हादसों का फ़लसफ़ा

दर्द नाक हादसों का फ़लसफ़ा
हमारा अक़ीदह है कि वह दर्दनाक हादसे जो इस दुनिया में वाक़े होते हैं (जैसे ज़लज़ला, आसमानी या ज़मीनी बलाऐं वग़ैरह)वह कभी अल्लाह की तरफ़ से सज़ा के तौर पर होते हैं जैसे जनाबे ...

आशूर के दिन पूरी दुनिया में मनाया गया इमाम हुसैन अ. का ग़म।

आशूर के दिन पूरी दुनिया में मनाया गया इमाम हुसैन अ. का ग़म।
अहलेबैत (अ )न्यूज़ एजेंसी अबना :प्राप्त सूत्रों के अनुसार समस्त विश्व में आशूरा आस्था एवं सम्मान के साथ मनाया गया और सय्यदुश्शोहदा इमाम हुसैन अलै. की याद में मजलिस एवं मातम ...

प्रकाशमयी चेहरा “जौन हबशी”

प्रकाशमयी चेहरा “जौन हबशी”
जौन बिन हुवैइ बिन क़तादा बिन आअवर बिन साअदा बिन औफ़ बिन कअब बिन हवी (1), कर्बला के बूढ़े शहीदों मे से थे। आप अबूज़र ग़फ़्फ़ारी और इमाम हुसैन (अ) के दास थे। आप अबूज़र ग़फ़्फ़ारी ...

जनाब अब्बास अलैहिस्सलाम का संक्षिप्त जीवन परिचय।

जनाब अब्बास अलैहिस्सलाम का संक्षिप्त जीवन परिचय।
4 शाबान 26 हिजरी को मदीना में हज़रत अमीरूल मोमेनीन और उम्मुल बनीन के नामवर बेटे जनाबे अब्बास अलैहिस्सलाम का शुभजन्म हुआ। आपकी माँ हेज़ाम बिन खालिद की बेटी थीं, उनका परिवार ...

हज़रत अब्बास अलैहिस्सलाम का जन्मदिवस।

हज़रत अब्बास अलैहिस्सलाम का जन्मदिवस।
बनी हाशिम के चांद हज़रत अबुल फ़ज़्लिल अब्बास के जन्मदिवस का जश्न आज पूरी दुनिया में हर्ष व उल्लास के साथ मनाया जा रहा है।अमीरुल मोमिनीन हज़रत अली इब्ने अबीतालिब ...

तिलावत,तदब्बुर ,अमल

तिलावत,तदब्बुर ,अमल
क़ुरआने करीम की तिलावत अफ़ज़ल तरीन इबादतों में से एक है और बहुत कम इबादते ऐसी हैं जो इसके पाये को पहुँचती हैं। क्यों कि यह इल्हाम बख़्श तिलावत क़ुरआने करीम में ग़ौर व ...